Politics

राहुल गांधी की तुलना लोग कर रहे दूल्हे के फूफा जी के साथ, जानिए वजह

 

डेस्क: बीते शुक्रवार को भारत ने एक नया रिकॉर्ड बनाया जिसके लिए खुद WHO के मुख्य वैज्ञानिक सौम्या स्वामीनाथन ने भी भारत के वैज्ञानिकों और टीकाकरण अभियान से जुड़े सभी स्वास्थ्यकर्मियों की तारीफ की। साथ ही उन्होंने टीकाकरण अभियान का सही तरीके से संचालन करने के कारण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भी तारीफ की। बता दें कि शुक्रवार के दिन भारत ने एक दिन में एक करोड़ वैक्सीन के डोज देकर एक नया रिकॉर्ड बना दिया है।

कुछ दिनों पहले ही भारत में एक दिन में 88 लाख से भी अधिक लोगों को वैक्सीन का पहला डोज दिया गया था। अब यह आंकड़ा एक दिन में 1 करोड़ के पार जा चुका है। यह भारत के लिए गर्व की बात है क्योंकि अभी तक दुनिया के किसी भी देश में एक दिन में एक करोड़ वैक्सीन के डोज नहीं दिए गए हैं। इसके लिए प्रधानमंत्री के संचालन की तारीफ हो रही है।

राहुल गांधी को कहा जा रहा “फूफाजी”

लेकिन विपक्षी दलों का खासकर राहुल गांधी का अब भी यही कहना है कि देश में जनता को वैक्सीन नहीं मिल पा रहा है। इस विषय पर सारा विपक्ष लगातार प्रधान मंत्री को घेरने की कोशिश करता रहा है। हाल ही में राहुल गांधी ने एक बार फिर वैक्सीन के आपूर्ति को लेकर प्रधानमंत्री की आलोचना करने की कोशिश की। इसके बाद से ही सोशल मीडिया पर लोग राहुल गांधी को “फूफाजी” कहकर ट्रोल कर रहे हैं।

हो रही है दूल्हे के फूफाजी के साथ तुलना

एक तरफ जहां टीकाकरण के मामले में रिकॉर्ड बनाने के कारण वैज्ञानिकों, स्वास्थ्यकर्मियों और प्रधानमंत्री की तारीफ हो रही है। वहीं राहुल गांधी अब भी पीएम की आलोचना कर रहे हैं। ऐसे में लोगों का कहना है कि राहुल गांधी किसी शादी में दूल्हे के फूफाजी जैसा बरताव कर रहे हैं। जिस प्रकार शादी में सब कुछ सही रहने पर भी दूल्हे के फूफाजी सभी चीजों की आलोचना करते हैं, उसी प्रकार राहुल गांधी भी कर रहे हैं। ऐसे में सभी का कहना है कि राहुल गांधी दूल्हे के फूफाजी के तरह बरते कर रहे हैं।

देश की आधी जनसंख्या को लग चुकी अगली डोज

अधिकारिक सूत्रों के अनुसार अभी तक देश में वयस्कों की आधी जनसंख्या को वैक्सीन का पहला डोज दिया जा चुका है। इसी के साथ अब तक कुल 62 करोड़ से भी अधिक वैक्सीन लगाए जा चुके हैं। इसे भारत की एक बड़ी उपलब्धि के तौर पर देखा जा रहा है क्योंकि दुनिया का कोई भी देश अभी तक इस आंकड़े के आस पास भी नहीं पहुंचा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button