Politics

बाबुल की अजब गजब राजनीति: मेसी को भी घसीटा अपनी राजनीति में

 

डेस्क: भाजपा को छोड़कर टीएमसी में शामिल होने वाले पूर्व केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो का लगातार विरोध किया जा रहा है। मंत्री पद से हटाए जाने के बाद पार्टी बदलने के कारण उन्हें लगातार ट्रोल भी किया जा रहा है। लोग उन्हें अवसरवादी नेता तक कह रहे हैं। इस बीच अपने बचाव में बयान देते हुए उन्होंने फुटबॉल के नामचीन खिलाड़ी मेसी का नाम लिया।

उन्होंने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि “मेसी बार्सिलोना टीम नहीं छोड़ना चाहते थे। उन्हें दुखी मन से ऐसा करना पड़ा। उन्होंने चैंपियंस लीग के कई मैचों में पीएसजी के खिलाफ गोल किए। लेकिन अब जब वह खुद पीएसजी में है तो क्या आप उनसे बार्सिलोना के खिलाफ गोल ना करने की उम्मीद कर रहे हैं?” साथ ही उन्होंने प्रधानमंत्री और गृह मंत्री का आभार व्यक्त किया।

टीएमसी में 7 वर्षों के अनुभव का करेंगे प्रयोग

उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गृहमंत्री अमित शाह और भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि “उन्होंने मुझे 7 वर्षों तक संसदीय राजनीति सीखने का मौका दिया इसके लिए मैं उनका आभारी हूं।” उन्हें अवसरवादी बताए जाने के जवाब में उन्होंने कहा कि उन्होंने पूरे मन से राजनीति छोड़ दी थी लेकिन एक अच्छा मौका मिलने की वजह से अपने 7 वर्षों एकत्र किए गए ना उससे जनता की भलाई करने के लिए वह टीएमसी में शामिल हो गए।

देंगे सांसद पद से इस्तीफा

उन्होंने बताया कि 23 सितंबर को वह माननीय स्पीकर से मुलाकात करके अपने सांसद पद से इस्तीफा दे देंगे। बता दें कि वह आसनसोल से पिछले 7 वर्षों से सांसद रहे हैं। वर्तमान में प्रधानमंत्री के मंत्रिमंडल में विस्तार के बाद उन्हें मंत्री पद से हटा दिया गया। जिससे दुखी होकर उन्होंने राजनीति से संन्यास लेने की ठानी। लेकिन कुछ समय बाद ही अचानक उन्होंने बिना किसी को सूचित किए टीएमसी की सदस्यता ले ली।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button