Uttar Pradesh

महिला ने जन्मा था बेटा, घर जाकर देखा तो निकली बेटी, जानें किसकी थी गलती

ललितपुर जिले के महिला अस्पताल के एसएनसीयू से बच्चा बदलने की खबर सामने आ रही है। बताया जा रहा है कि एक महिला ने अस्पताल में अपने पुत्र को जन्म दिया था लेकिन घर पहुंचने के बाद उसे पता चला कि उसके पास मौजूद नवजात शिशु बेटी है। इसे जानने के बाद घर वालों के होश उड़ गए और पूरे घर में हड़कंप मच गई।

दरअसल, महिला कोतवाली सदर के पुरा गांव में रहने वाली 32 वर्षीय रचना कुशवाहा है जो बुधवार को दोपहर में प्रसव पीड़ा होने के बाद परिजनों के साथ उपचार के लिए जिला महिला अस्पताल गई।

बच्चे को किया एसएनसीयू में भर्ती, मां की भी बिगड़ी तबीयत

अस्पताल में शाम के लगभग 5:30 बजे महिला ने पुत्र को जन्म दिया। लेकिन कुछ समस्याओं के कारण बच्चे को एसएनसीयू में भर्ती कराया गया। बताया जा रहा है कि रात के करीब 9:30 बजे प्रसूता की भी हालत बिगड़ने लगी जिसके बाद उसे झांसी मेडिकल कॉलेज को रिफर कर दिया गया।

एसएनसीयू ने की लापरवाही, बदल दिया बच्चा

महिला के घरवाले एसएनसीयू में भर्ती हुए अपने बच्चे को लेने अस्पताल पहुंचे और कर्मचारियों से बच्चे की मांग की। हॉस्पिटल के कर्मचारियों ने अपनी लापरवाही से घर वालों को किसी और का बच्चा दे दिया। दरअसल में बच्चा बानपुर क्षेत्र के कचनोंदा ग्राम में रहने वाली 22 वर्षीय राजकुमार कुशवाहा का था।

काफी घंटों के बाद पता चला सच

घरवाले जब बच्चे को लेकर वापस अपने घर पहुंच गए तो लगभग 14 घंटे के बाद उन्हें पता चला कि उनके पास मौजूद नवजात शिशु बेटा नहीं, बेटी है। महिला अस्पताल के सीएमएस डॉ शैलेंद्र सिंह चौहान ने एसएनसीयू की लापरवाही बताई है जिसकी जांच कराई जा रही है। साथ ही बताया है कि इस मामले में जो भी दोषी पाया जाएगा उस पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button