National

इन राज्यों में छाया है बाढ़ का कहर, IMD ने जारी किया ऑरेंज अलर्ट

 

डेस्क: पिछले कुछ समय से लगातार देश के अलग-अलग हिस्सों में भारी बारिश देखने को मिल रही है कुछ इलाकों में बारिश के कारण मौसम सुहावना हो गया है तो कई इलाकों में जलजमाव से लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। कई इलाके तो ऐसे हैं जहां मानसून के आगमन के समय इतनी बारिश नहीं हुई जितनी अभी हो रही है।

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली सहित उत्तर भारत के कई राज्यों में मौसम विभाग में ऑरेंज अलर्ट जारी कर दिया है। सूत्रों की मानें तो दिल्ली में सितंबर के महीने में इतनी बारिश 2009 के बाद नहीं हुई थी। पिछले 24 घंटे में 112.1mm बारिश के साथ दिल्ली में सितंबर के महीने में होने वाली बारिश का रिकॉर्ड टूट चुका है। इसके साथ ही उत्तर प्रदेश, बिहार और असम में भी बाढ़ आने की आशंका जताई जा रही है।

कई नदियां हैं उफान पर

भारी बारिश के कारण उत्तर भारत की कई नदियां खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। लगातार तेज बारिश को देखते हुए मौसम विभाग ने मध्य प्रदेश बिहार और उत्तर प्रदेश सहित कई राज्यों में बाढ़ के लिए अलर्ट जारी कर दिया है। बिहार के कई इलाके पहले ही बाहर से प्रभावित हो चुके हैं। राज्य के मुख्यमंत्री लगातार यहां की हालात पर नजर बनाए हुए हैं। उनके अनुसार राहत काम तेजी से चल रहा है।

उत्तर प्रदेश में भी जारी किया गया अलर्ट

बिहार में आई बाढ़ के बाद उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में भी मौसम विभाग द्वारा अलर्ट जारी किया गया है। इनमें बागपत, बरात, मोदीनगर, पिलाखुआ मेरठ, शामली, खतौली, दौराला, हस्तिनापुर, मुजफ्फरनगर, मथुरा, राया, नंदगांव, बरसाना, गुलाटी, इगलास, हाथरस, सहारनपुर इत्यादि शामिल है।

असम में भी आया बाढ़

असम के कुल 21 जिलों में बाढ़ के हालात बने हुए हैं। लगातार तेज बारिश के कारण असम और इससे सटे पहाड़ी राज्यों के हालात बदतर हो गए हैं। बता दें कि गुवाहाटी से गुजरने वाली ब्रह्मपुत्र नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है जिससे उसके आसपास के इलाके जलमग्न हो चुके हैं। असम डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी की मानें तो 3 लाख से अधिक लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं।।

महाराष्ट्र में भी बाढ़ के हालात

महाराष्ट्र के कई इलाकों में भी पिछले 24 घंटे से लगातार बारिश के कारण जलभराव देखने को मिल रहा है। देश की आर्थिक राजधानी कहे जाने वाले मुंबई में भी बारिश के कारण सड़कें पानी से लबालब भरी हुई है। कमर तक पानी भरे होने के कारण लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button