Uttar Pradesh

अयोध्या पहुंचे राष्ट्रपति ने कह दी सभी हिंदुओं के दिल की बात

 

 

डेस्क: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने रविवार को अयोध्या का दौरा किया और उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तथा अन्य की उपस्थिति में एक रामायण संगोष्ठी का आरंभ किया.

इस शहर के संदर्भ में भगवान राम की महत्ता पर जोर देते हुए राष्ट्रपति ने कहा, ‘राम के बिना अयोध्या, अयोध्या नहीं है, जहां राम है वहीं अयोध्या है. भगवान राम इस शहर में स्थायी रूप से रहते हैं और अत: सच्चे मायनों में यह स्थान अयोध्या है.’ इस मौके पर उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा व केंद्रीय रेलवे और कपड़ा राज्यमंत्री दर्शना विक्रम जरदोश भी मौजूद रहीं.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा है कि राम सबके हैं और राम सब में हैं. उन्होंने कहा कि अयोध्या मानव सेवा का उत्कृष्ट केंद्र बने. शिक्षा और शोध का भी वैश्विक केंद्र बनाया जाये. उन्होंने कहा कि रामकथा के आदर्श का प्रचार प्रसार हो. समस्त मानवता एक ईश्वर की संतान है.
श्री कोविंद ने कहा कि विश्व समुदाय और युवा पीढ़ी को राम कथा में निहित जीवन मूल्यों से जोड़ना चाहिए. रामायण में राम निवास करते हैं. वाल्मीकि जी ने कहा था जब तक पृथ्वी पर नदी और पर्वत रहेंगे रामकथा लोकप्रिय रहेगी.

पर्यटन विभाग की परियोजनाओं का किया लोकार्पण और शिल्यान्यास

रामकथा की लोकप्रियता विश्वव्यापी है. रामकथा के अनेक पठनीय रूप देश और विदेश में प्रचलित है. श्री कोविंद यहां राम कथा पार्क में आयोजित रामकथा कांक्लेव का शुभारंभ करने के बाद समारोह को संबोधित कर रहे थे. इस दौरान उन्होंने पर्यटन विभाग की परियोजनाओं का लोकार्पण और शिल्यान्यास भी किया.

इस दौरान लोक गायिका मालिनी अवस्थी ने शानदार अंदाज में गीतों की प्रस्तुति दी. पूरा माहौल भक्तिमय हो गया. कार्यक्रम में शामिल हुए लोगों ने जय श्रीराम का जयघोष किया. अयोध्या धाम को पूरी तरह से सील किया गया. सभी एंट्री प्वॉइंट पर बैरियर लगाए गए. महामहिम 4 घंटे 10 मिनट अयोध्या में रहेंगे. 12 बजे से 1 बजे तक राम कथा पार्क रामायण कॉन्क्लेव के शुभारंभ कार्यक्रम में रहेंगे.

2 बजे से 3 बजे तक हनुमानगढ़ी और रामलला दर्शन पूजन करेंगे. और राम जन्मभूमि में वृक्षारोपण करने के बाद दोपहर 3:40 पर अयोध्या रेलवे स्टेशन वापस हो जाएंगे.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button